Spirituality

बुधवार को विघ्नहर्ता गणपति की करें पूजा, आपके सारे दुखों का होगा नाश



बुधवार को विघ्नहर्ता गणपति की करें पूजा, आपके सारे दुखों का होगा नाश पूजा में भगवान श्रीगणेश जी को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है। हिंदू मान्यताओं के अनुसार किसी भी शुभ को करने से पहले भगवान गणेश की ही पूजा की जाती है। देवता भी अपने कार्यों को बिना विघ्न से पूरा करने के लिए सर्वप्थम गणेश जी को सबसे पहले याद करते हैं। क्योंकि देवगणों द्वारा ही गणेशजी की अग्रपूजा का विधान बनाया गया है। सनातन घर्म में भगवान गणेश जी को, विघ्नहर्ता अर्थात सभी तरह की परेशानियों को खत्म करने वाला बताया गया है। पुराणों में गणेशजी की भक्ति सहित सारे ग्रहदोष दूर करने वाली भी बताई गई हैं। हर बुधवार के शुभ दिन गणेशजी की उपासना से वे व्यक्ति के सारे दुख हर लेते हैं व सभी तरह की रुकावटे दूर कर देते हैं। इस दिन सुबह उठकर स्नानादि कार्यों से निवृत होकर अगर आपके घर पर गणपति की प्रतिमा है तो घर पर ही, नहीं तो गणेश जी के मंदिर में जाकर दूर्वा की 11 या

21 गांठें अर्पित करें। इसके अलावा यदि कार्यों में बार-बार असफलता हाथ लगती है, तो बुधवार से श्रीगणेश के का जाप भी शुरु



कर दें।  गणेशजी को लगाएं भोग बुधवार के दिन श्री गणेश की विधिवत पूजा करने के बाद गुड़ और घी का भोग लगाएं। थोड़ी देर के बाद ये भोग गाय को खिला दें। इससे व्यक्ति को विशेष फल की प्राप्ति होती है। इस दिन यदि घर में श्रीगणेश की सफेद रंग की प्रतिमा स्थापना करें तो इसे अत्‍यंत शुभ माना जाता है। सफेद मोदक का प्रसाद चढ़ाना और ग्रहण करना भी ना भूलें। इससे घर में और मन में शांति बनी रहेगी। इसके साथ ही गणेश जी को शमी के पत्ते अर्पित करने से बुद्धि तेज़ होती है और ग्रह कलह का भी नाश होता है, इसलिए शमी के पत्तों से गणपति जी को प्रसन्‍न करें। इसके बाद उन्हें लाल सिंदूर व बूंदी के लड्डू भी चढ़ाएं।  परिवार और व्यक्ति के दुःख दूर करते हैं यह सरल उपाय बुधवार के दिन कुछ सरल उपाय करने से व्यक्ति

की बाधा, संकट, रोग, और दरिद्रता दूर हो जाती है। और घर में सफेद रंग के गणपति की स्थापना करने से समस्त प्रकार की का नाश होता है। धन प्राप्ति के लिए बुधवार के दिन श्री गणेश को घी और गुड़ का भोग लगाएं। थोड़ी देर बाद घी व गुड़ गाय को खिला दें। ये उपाय करने से धन संबंधी समस्या का निदान हो जाता है। परिवार में कलह कलेश हो तो बुधवार के दिन दूर्वा के गणेश जी की प्रतिकात्मक मूर्ति बनवाएं। इसे अपने घर के देवालय में स्थापित करें और प्रतिदिन इसकी विधि-विधान से पूजा करें। घर के मुख्य दरवाजे पर गणेशजी की प्रतिमा लगाने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। कोई भी नकारात्मक शक्ति घर में प्रवेश नहीं कर पाती है। अपनी कम्युनिटी से वैवाहिक प्रस्ताव पाएं और तुरंत उनसे वाट्सएप्प / फ़ोन पर बात करें।३,५०,००० मेंबर्स की तरह आज ही रजिस्टर करें" familyshaadi.com "FREE"| जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें -नि शुल्क

रजिस्ट्रेशन !





RECENT POSTS

POPULAR POSTS

HOT POSTS

Related Post

Leave a Response

You need to Login to post comment

Comments