Spirituality

शनि जयंती के दिन किये ये काम, जल्द ही कर देंगे आपको मालोमाल 



आज शनि जयंती ज्येष्ठ मास की अमावस्या है ये दिन भगवान शनि के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। सभी देवताओं से शनि देव थोड़े गुस्से वाले माने जाते है। लकिन शनिदेव को न्याय के देवता भी कहा जाता है। न्याय के देवता शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए ये अमावस्या बहुत महत्वपूर्ण है, इस दिन शनिदेव की पूजा अर्चना करने का विशेष फल प्राप्त होता है, आइए जानते हैं शनि जयंती पर कौन से कार्य वर्जित हैं... भूलकर भी न करें ये काम  शनि जयंती पर बाल ना कटवाएं, नाखून ना काटें. ऐसा कहा जाता है कि इससे आर्थिक तरक्की रुक जाती है।  अमावस्या के दिन पीपल की पूजा करने से शुभ फल प्राप्त होते हैं लेकिन शनिवार के अलावा अन्य दिन पीपल का स्पर्श नहीं करना चाहिए इसलिए पूजा करें लेकिन पीपल के वृक्ष का स्पर्श ना करें, इससे धन की हानि होती है।  इस दिन पैसे का लेन-देन से बचने की कोशिश करें। किसी से कर्ज बिल्कुल ना लें।  शनि अमावस्या के दिन शारीरिक संबंध ना बनाएं, संयम बरतें।  इस दिन पवित्र पौधों पर से तुलसी, दुर्वा, बिल्व पत्र, पीपल के पत्ते नहीं तोड़ना चाहिए।  अमावस्या के दिन जरूरी हो तो ही यात्रा करें, अन्यथा यात्रा बाद में करना



ही बेहतर है।  अमावस्या के दिन करें ये काम  अमावस्या के दिन नए कोरे वस्त्र और नए जूते नहीं खरीदने चाहिए. इस दिन नए कोरे वस्त्र पहने भी नहीं।  शनि जयंती के दिन किसी भी तरह बुरे आचरण से बचें।  झूठ बोलने, क्रोध करने और किसी की संपत्ति पर कब्जा करने की कोशिश ना करें।  





RECENT POSTS

POPULAR POSTS

HOT POSTS

Related Post

Leave a Response

You need to Login to post comment

Comments